रूमेटाइड अर्थराइटिस के मरीजों को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं? - CMK

रूमेटोइड आर्थराइटिस ( Rheumatoid Arthritis ) एक ऑटोइम्यून बीमारी (auto-immune disease) है जो आपके पूरे शरीर में जोड़ों के दर्द, सूजन और नुकसान का कारण बन सकती है। रूमेटाइड अर्थराइटिस एक सूजन संबंधित बीमारी है जिसमें न सिर्फ जोड़ों पर असर पड़ता है बल्कि शरीर के तंत्र, त्वचा, आंखों, लंग्स, दिल और खून पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है।


आर्थराइटिस फाउंडेशन (Arthritis Foundation) के अनुसार, रिसर्चर्स को यकीन नहीं है कि लोग रूमेटोइड आर्थराइटिस क्यों विकसित करते हैं। उनका मानना ​​है कि इन व्यक्तियों में कुछ ऐसे जीनस (genes) हो सकते हैं जो पर्यावरण में एक ट्रिगर द्वारा सक्रिय होते हैं, जैसे कि वायरस या बैक्टीरिया, शारीरिक या मानसिक तनाव या कोई अन्य बाहरी कारण।


रूमेटाइड अर्थराइटिस ( Rheumatoid Arthritis ) में जोड़ों के इलावा बाकी शरीर भी प्रभावित हो सकता है, इसमें फेफडे, हृदय, आदि भी प्रभावित हो सकते हैं। इसके अलावा कुछ लक्षण और होते है, जैसे की कमजोरी और थकान, जोड़ों में सूजन, जोड़ों में दर्द, अकड़न, हल्का बुखार इत्यादि।


रूमेटोइड आर्थराइटिस में क्या खाना चाहिए?

हमारे खाने से रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) ठीक नहीं होगा लेकिन सही भोजन खाने से सूजन को नियंत्रित करने में और आपको स्वस्थ वजन बनाए रखने में मदद मिलेगी। यह महत्वपूर्ण है क्योंकि ज्यादा वजन दर्द जोड़ों पर दबाव डालता है और रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) की कुछ दवाइयों को कम प्रभावी बना सकता है।


आर्थराइटिस फाउंडेशन के अनुसार बहुत सारे फलों और सब्जियों, अनाज और हेअल्थी फैट जैसे आहार रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) वाले लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है। जानिए की आपको क्या खाना चाहिए –


मछली (Fishes)–

सैल्मन, टूना, सार्डिन, हेरिंग और अन्य ठंडे पानी की मछली ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर होती हैं, जो सूजन को नियंत्रित करने में मदद करता है। आपके शरीर को ओमेगा -3 और ओमेगा -6 फैटी एसिड की आवश्यकता बराबर मात्रा में होती है।


शोधकर्ताओं (Researchers) ने पाया है कि ओमेगा -6 अगर ओमेगा -3 से अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो आपको सूजन संबंधी बीमारियां हो सकती है, इसलिए ओमेगा -6 को कम करना और ओमेगा -3 को बढ़ाना महत्वपूर्ण है। ओमेगा -6 मीट, कुछ तेलों और तले हुए खाने में पाया जाता है, जिनका सेवन कम करना चाहिए।


फल और सब्जियां (Fruits & Vegetables) –

फल और सब्जियां एंटीऑक्सिडेंट (antioxidants) से भरपूर होती हैं, जो सूजन को रोकता है। यह विटामिन और मिनरल से भी भरे होते हैं जिनकी शरीर को बहुत जरूरत होती है। हर दिन कई प्रकार के ताजे फल और सब्जियों का सेवन करें जो रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) में आपके शरीर के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण है। अधिक से अधिक पोषक तत्व प्राप्त करने के लिए हरी सब्जियां जरूर खाएं।


आर्थराइटिस फाउंडेशन के अनुसार प्रतिदिन दो कप फल और ढाई से तीन कप सब्जियों का लक्ष्य रखें। यदि आप व्यायाम करते हैं तो अपने आवश्यकता अनुसार इसे बढ़ा और घटा सकते हैं।


साबुत अनाज (Whole Grains)–

आपके हृदय में भी रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) के लक्षण दिखते हैं। जई (oats), गेहूं, ब्राउन राइस, और अन्य साबुत अनाज (whole grains) हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकता है। रिफाइंड अनाज (refined grains) की तुलना में साबुत अनाज (whole grains) नुट्रिएंट्स और फाइबर में अधिक होते हैं। हमेशा लेबल पढ़ कर ब्रेड, अनाज और अन्य खाने का सामान चुने जिसमे साबुत अनाज (whole grains) की मात्रा अधिक हो।


मटर और बीन्स (Pea & Beans) –

रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) से कुछ मरीजों में मांसपेशियों का नुकसान देखा जाता है। मटर और बीन्स प्रोटीन का एक बड़ा स्रोत हैं, जो मांसपेशियों को स्वास्थ्य रखने के लिए महत्वपूर्ण है। मटर और बीन्स व्यावहारिक रूप से फैट रहित होते हैं, इसमें एंटीऑक्सिडेंट होते हैं और फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, आयरन और जिंक से भरपूर होते हैं। इन नुट्रिएंट्स से ह्रदय और इम्यून सिस्टम को बहुत फायदा होता है।


दाने और बीज (Nuts & Seeds) –

मोनोअनसैचुरेटेड फैट (monosaturated fat) से भरपूर, नट्स से आपको महत्वपूर्ण न्यूट्रिएंट्स मिलते हैं। कुछ नट्स जैसे की पिस्ता, हेज़लनट्स और बादाम सबसे महत्वपूर्ण होते हैं। अखरोट रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) वाले लोगों के लिए विशेष रूप से अच्छे होते हैं क्योंकि वे ओमेगा -3 फैटी एसिड में उच्च होते हैं। लेकिन नट्स का भी सेवन कम मात्रा में करना चाहिए क्योंकि इनमें कैलोरी की मात्रा भी ज्यादा होती है जिससे वजन बढ़ने की संभावना ज्यादा होती है।


रूमेटोइड आर्थराइटिस में क्या नहीं खाना चाहिए?

खाने में कुछ ऐसी चीज़ें हैं जो रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप क्या खाते हैं इसका ध्यान रखें। यदि आपको रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) है या इसके लक्षण नजर आ रहे हैं, तो संतुलित आहार खाना महत्वपूर्ण है जिसमें बहुत सारे फल और सब्जियां शामिल हों, और ऐसे खाद्य पदार्थों से बचें जो आपके लक्षणों को बढ़ा सकते हैं।


तले हुए खाने (Fried Foods) –

गठिया से पीड़ित लोगों को तले हुए पदार्थों से बचना चाहिए, जो सूजन को बढ़ा सकते हैं और शरीर के इम्यून सिस्टम (immune system) को कमजोर कर सकते है। स्वस्थ आहार के लिए फल और सब्जियां महत्वपूर्ण हैं, और रोगियों को अपने आहार में इनका अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए।


ग्रील्ड या भुना खाना (Grilled & Roasted Food) –

गर्म, तले हुए, ग्रिल्ड या पास्तूराइज़्ड (pasteurized) खाना खाने से शरीर का प्रोटीन नष्ट होता है और आपको रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) या सूजन होने की संभावना बढ़ जाती है। जितना हो सके ताजा खाना खाने से आप स्वास्थ्य समस्याओं के विकास के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं।


चीनी और रिफाइंड कार्ब्स (Sugar & Refined Carbs) –

चीनी और रिफाइंड कार्ब्स आपका वजन बढ़ा सकते हैं, इसलिए अपने सेवन को सीमित करना महत्वपूर्ण है। दूध, दही और पनीर जैसे डेयरी उत्पाद जब अत्यधिक मात्रा में खाए जाए तो सूजन पैदा कर सकते हैं और परेशानी का कारण बनते हैं। इसलिए, रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) के मरीज़ों को डेरी प्रोडक्ट्स के जगह नट बटर, पालक, बीन्स, दाल, और टोफू का सेवन करने की सलाह दी जाती है।


शराब या तंबाकू (Alcohol & Tobacco) –

शराब या तंबाकू का सेवन सीमित करने से भी मदद मिल सकती है। स्वस्थ जोड़ों को बनाए रखने के लिए संतुलित आहार, नियमित व्यायाम और पर्याप्त नींद सभी महत्वपूर्ण हैं।


नमक और प्रीसर्वेटिव (Salt & Preservatives) –

सोडियम क्लोराइड (नमक) और प्रीसर्वेटिव (preservative) कई खाद्य पदार्थों में पाए जा सकते हैं जो उन्हें लंबे समय तक टिकने में मदद करते हैं, लेकिन वे जोड़ों में सूजन भी पैदा कर सकते हैं। स्वस्थ रहने के लिए लोगों को कोशिश करनी चाहिए कि नमक कम और ताजा खाना ज्यादा खाएं।


रूमेटाइड अर्थराइटिस ( Rheumatoid Arthritis ) के रोगी के लिए एक स्वस्थ आहार महत्वपूर्ण है। यह रूमेटाइड अर्थराइटिस के कारण होने वाली सूजन को भी कम करता है। अगर आपको रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) के लक्षण नज़र आ रहे हैं तो अपने खाने का ध्यान रखें और नजदीकी डॉक्टर को दिखाएं जिससे आपका अच्छा और बेहतर इलाज हो पाएगा।