एड़ी का दर्द क्या होता है? - Edi Mein Dard Kyon Hota Hai

आप जब भी 1 मील चलते हैं, तब आपके प्रत्येक पांव पर 60 टन का दबाव पड़ता है। हालाँकि, यह सोचने में ज्यादा लग रहा है, परन्तु हमारा पाँव इससे ज्यादा दबाव सहन कर सकता है। एड़ी और टखने को प्रभावित करने वाली सबसे आम समस्या, एड़ी में दर्द है। आपकी जीवनशैली के कारण आपकी एड़ी में दर्द और सूजन भी सकती है। यह मामूली या गंभीर हो सकता है। अपने आस-पास के किसी हड्डी रोग विशेषज्ञ से संपर्क करें और जल्द ही निदान करवाएं।


आपकी एड़ी में दर्द के कई कारण हो सकते हैं। उनमें से कुछ को यहां संक्षेप में बताया गया है, ताकि आप जान सके की आपको एड़ी में दर्द क्यों होता है। इस ब्लॉग में, हम एड़ी में दर्द का कारण (Heel pain in Hindi) और व्यायामों (Exercises for Heel Pain in Hindi) पर चर्चा करेंगे।

Heel Pain reason in Hindi

एड़ी का दर्द क्या होता है? (Heel Pain Meaning in Hindi)

कुछ कारणों के वजह से जब आपके एड़ी में दर्द, जलन, या सूजन होने लगती है तो इसे एड़ी का दर्द (Heel Pain in Hindi) कहते है। यह दर्द आपको चलने फिरने में बाधा बन सकता है और आपकी रोज के कामों को काफी प्रभावित करता है। एड़ी का दर्द, पैर के निचले हिस्सों में, एड़ी के पीछे, और एड़ी के आस -पास मौजूद माँसपेशियों में चोट लगने के कारण होता है।


वैसे तो एड़ी में दर्द आमतौर पर बिना किसी उपचार के ठीक हो जाता है। लेकिन कुछ मौकों पर यह लगातार परेशान कर सकता है और गंभीर बन सकता है।

चलते समय एड़ी में दर्द के कारण (Causes of Heel Pain in Hindi) - adi me dard ke karan

आपके एड़ी और टखने में 26 हड्डियां, 33 जोड़ और लगभग 100 या अधिक टेंडन होते हैं। इनमें से किसी एक हड्डी, जोड़ों या टेंडन में किसी भी तरह की चोट से आपकी एड़ी में दर्द और परेशानी हो सकती है। क्या आप जानते है की आपको एड़ी में दर्द क्यों होता है? एड़ी दर्द के कुछ प्रमुख कारण हैं:

Plantar Fasciitis image one of the Heel Pain reason in Hindi

प्लेन्टर फेस्याइटिस (Plantar Fasciitis)

अर्थ - यह एड़ी के दर्द का सबसे आम कारण है। हमारी एड़ी में टिश्यू का एक मजबूत बैंड होता है जो एड़ी की हड्डी से शुरू होता है और पैर की नोक तक जाता है जिसे प्लेन्टर फेस्याइटिस के रूप में जाना जाता है। जब आप अपने एड़ी पर बहुत अधिक दबाव डालते हैं और आपकी फेस्या (tissue) अपनी सामान्य लंबाई से अधिक खिंच जाती है, तो कुछ संभावना है कि आपके प्लेन्टर फेस्या को नुकसान पहुंच सकता है।


जोखिम कारक - 40 से 70 वर्ष की आयु के बीच में प्लांटर फैसीसाइटिस होने की संभावना अधिक होती है। मोटे लोगों और गर्भवती महिलाओं को उनके अतिरिक्त वजन के कारण अधिक जोखिम होता है।


इलाज - फिजियोथेरेपी, बर्फ लगाना, ब्रेसिज़, उचित आराम, आर्थोपेडिक जूते, पट्टा और दवाएं आपकी एड़ी के दर्द को कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं।


 Achilles Tendinitis image Heel Pain reason in Hindi

एकिलीज़ टेंडिनाइटिस (Achilles Tendinitis)

अर्थ- आपके पैर के पीछे की मांसपेशियां, एकिलीज़ टेंडन की मदद से आपकी एड़ी की हड्डी से जुड़ी होती हैं। जब आप दौड़ते हैं, कूदते हैं, चलते हैं, या अपने पैर की उंगलियों पर लंबे समय तक खड़े रहते हैं, तो आपको एकिलीज़ टेंडिनाइटिस होने की संभावना होती है। यह बीमारी आपको एड़ी के ज्यादा प्रयोग से होती है जिससे आपकी एड़ी के पिछले हिस्से में दर्द, सूजन और जकड़न का कारण बनता है।


जोखिम कारक- रनर, बास्केटबॉल खिलाड़ी, सॉकर खिलाड़ी और बेली डांसर को एकिलीज़ टेंडिनाइटिस होने का अधिक जोखिम होता है।


इलाज- सूजन पर बर्फ लगाएं और आराम करें। इसके अलावा दवाएं, आर्थोपेडिक एड़ी कुशन, और इंजेक्शन से भी ठीक हो सकते हैं। अत्यंत गंभीर स्थितियों में सर्जरी भी एक विकल्प है।


Heel Bursitis image Heel Pain reason in Hindi

हील बर्साइटिस (Heel Bursitis)

अर्थ- बर्सा, एड़ी के पीछे एक रेशेदार थैली होती है जो तरल पदार्थ से भरी होती है और हड्डी, मांसपेशियों, लिगामेंट्स और जोड़ों के लिए कुशन का काम करती है। जब बर्सा अति प्रयोग और एड़ी पर अतिरिक्त दबाव पड़ने से प्रभावित होती है, तो यह एड़ी बर्साइटिस का कारण बनता है।


इलाज- बर्साइटिस का इलाज़, प्लेन्टर फेस्याइटिस के समान है, लेकिन कुछ अन्य उपचार विधियों में ब्रेसिज़, बैंड या स्पलिंट शामिल हैं जो आपकी एड़ी से चलने में मदद करती हैं।


Heel Spur image Heel Pain reason in Hindi

हील स्पर (Heel Spur)

अर्थ- हील स्पर तब होता है जब एड़ी की हड्डी के नीचे कैल्शियम जमा हो जाता है, जिसकी वजह से हमारे एड़ी में एक छोटी हड्डी बन जाती है। यह प्रक्रिया को आमतौर पर कई महीनों की अवधि लग जाती है।


जोखिम कारक- एथलीट जो अक्सर दौड़ते और कूदते हैं, उनमें आमतौर में ये बीमारी देखि जाती है।


इलाज- प्लेन्टर फेस्याइटिस और हील बर्साइटिस के के जैसे ही इलाज होते है।


Haglund's Deformity image Heel Pain reason in Hindi

हेगलंड्स विकृति (Haglund's Deformity)

अर्थ- किसी व्यक्ति की एड़ी के पीछे एक हड्डी का विकास मुख्य रूप से हैग्लंड विकृति का कारण होता है। यह मुख्य रूप से कठोर और सख्त जूते पहनने के कारण होता है। एड़ी के पिछले हिस्से के पास के नरम टिश्यू कठोर जूतों से रगड़ के ख़राब हो सकते है और आपकी एड़ी पर बड़े बोनी गांठ बना सकते हैं।


इलाज- नरम जूते पेहनने से इसे रोका जा सकता है और ठीक भी किया जा सकता है। इसके अलावा दवाइयों और फिजियोथेरेपी की मदद से इसे रोका जा सकता है।


आपको डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए?

यदि आप एड़ी में दर्द का अनुभव करते हैं और बहुत लम्बे समय से आइस पैक लगा रहे है और मालिश करने की कोशिश कर चुके हैं, और फिर भी आपकी एड़ी का दर्द 2 से 3 सप्ताह के बाद भी दूर नहीं होता है, तो तुरंत एक आर्थोपेडिक डॉक्टर से संपर्क करें।


निचे दिए गए लक्षणों का अनुभव होने पर आपको तुरंत किसी हड्डी रोग विशेषज्ञ से संपर्क करना चाहिए:


  • 2-3 सप्ताह के बाद भी आपका दर्द दूर नहीं होता है
  • आपकी एड़ी के पास चोट लगी है
  • आपका एड़ी लाल रंग का दिखता है
  • सूजन और दर्द के कारण अगर आपकी एड़ी लाल रंग की दिखती है
  • दर्द के साथ सूजन अचानक शुरू हो जाती है
  • एड़ी में दर्द के कारण आप ठीक से चल भी नहीं पा रहे हैं

डॉ. डी.के. दास )Dr. D.K Das दिल्ली में एक वरिष्ठ आर्थोपेडिक सर्जन हैं जो हड्डियों और जोड़ों से संबंधित बिमारियों का निदान और इलाज करते हैं। वह आर्थोपेडिक्स से संबंधित विभिन्न स्थितियों का इलाज करते है।


यदि आप एड़ी के दर्द या किसी हड्डी और जोड़ों से संबंधित समस्या से पीड़ित हैं, तो क्योर माई नी (Cure My Knee) से संपर्क करें, और अपनी एड़ी के दर्द या किसी अन्य समस्या के कारण के बारे में जानने के लिए डॉ डी.के. दास (Dr. D.K Das) से परामर्श लें।


एड़ी के दर्द के लिए कौन से व्यायाम अच्छे हैं? - Edi Ka Dard Sahi Karne Ke Liye Exercise

सरल व्यायाम, हड्डियों, जोड़ों और लिगामेंट्स को मजबूत और अधिक लचीला बनाने में मदद कर करता है। यहाँ दिए गए कुछ व्यायाम सुबह घर पर किए जा सकते हैं जो आपकी एड़ी के दर्द को कम करने में आपकी मदद करेंगे। एड़ी के दर्द के ये व्यायाम प्लेन्टर फेस्याइटिस, एकिलीज़ टेंडिनाइटिस, हील बर्साइटिस और आपकी एड़ी में दर्द के कारण पैदा होने वाली अन्य समस्याओं को काफी कम कर सकते हैं।


नोट: कोई भी व्यायाम करने से पहले या किसी व्यायाम को करते समय दर्द महसूस होने पर अपने नजदीकी हड्डी रोग विशेषज्ञ से सलाह लें।


फुट रोल व्यायाम

  • स्टेप 1 : आराम से कुर्सी पर बैठ जाएं।
  • स्टेप 2 : बर्फ का ठंडा पानी का बोतल, टेनिस बॉल या रोलिंग बॉक्स में जो भी आपके घर में उपलब्ध हो उसे लें और इसे अपने एड़ी के नीचे फर्श पर रखें।
  • स्टेप 3 : धीरे-धीरे अपने पैर के अंगूठे से एड़ी की तरफ लगभग 1 मिनट तक बोतल को घुमाना शुरू करें।
  • स्टेप 4 : इसी व्यायाम को रोजाना 5 मिनट तक दोहराएं जब तक कि आपकी एड़ी का दर्द दूर न हो जाए।
  • स्टेप 5 : अगर आपको अपनी दोनों एड़ियों में दर्द हो रहा है तो इसे दूर करने के लिए अपने दोनों एड़ियों पर ये व्यायाम करें।

    यह व्यायाम आपके प्लांटर लिगामेंट को खींचने में आपकी मदद करेगा। ठंडा बर्फीला पानी आपकी एड़ी में होने वाले दर्द या सूजन से राहत दिलाने में आपकी मदद करेगा।


footroll exercise image for heel pain in hindi

स्टेर्स पर व्यायाम

  • स्टेप 1 : एक सीढ़ी पर खड़े हो जाएं और व्यायाम शुरू करने से पहले सीढ़ी के बगल की दीवारों या रेल को पकड़ लें।
  • स्टेप 2 : सीढ़ियों के किनारे पर इस तरह खड़े हो जाएं कि आपके पैर के अंगूठे सीढ़ियों पर हों जबकि एड़ियां हवा में लटकी रहे।
  • स्टेप 3 : धीरे-धीरे अपनी एड़ी को सीढ़ी के किनारे से नीचे करें, 5 सेकंड तक प्रतीक्षा करें, और अपने पैरो के अंगूठे पर दबाव डालें।
  • स्टेप 4 :रेलिंग को पकड़ें और अपनी एड़ी को हवा में ऊपर उठाएं फिर 5 सेकंड के लिए रुकें और उसी प्रक्रिया को दोहराएं।
  • स्टेप 5 : इस व्यायाम को रोजाना 5 मिनट के लिए एक बार करें ताकि आपके एड़ी की हड्डी में खिंचाव आए।

    यह व्यायाम आपके एड़ी की मांसपेशियों में तनाव को दूर करने और आपकी एड़ी के दर्द को कम करने में आपकी मदद करता है।


Heel Raise Exercise image for heel pain hindi

कंकड़ से व्यायाम

  • स्टेप 1 : आराम से कुर्सी पर बैठ जाएं।
  • स्टेप 2 : अपने पैरों की पहुंच के भीतर कुछ 15-20 कंकड़ बिखेर दें और एक मग जमीन पर रखें।
  • स्टेप 3 : अपने पैर के अंगूठे की सहायता से कंकड़ को एक-एक करके पकड़ें और मग में जमा करें।
  • स्टेप 4 : सभी कंकड़ को पकड़कर मग में डाल दें। इस अभ्यास के लिए अपने दोनों एड़ी की उंगलियों का प्रयोग करें, भले ही आपके केवल एक एड़ी में दर्द हो।
  • स्टेप 5 : इस व्यायाम को हफ्ते में 2 से 3 बार करें।

    यह व्यायाम आपके पैरों में मांसपेशियों और लिगामेंट्स की मदद करता है, उन्हें समय के साथ मजबूत करता है और फेस्याइटिस के कारण होने वाले दर्द को कम करता है।


 Pebble Exercise image for heel pain in hindi

दीवार से खिंचाव

  • स्टेप 1 : दीवार के सहारे खड़े हो जाएं और अपने दोनों पैरों को आपस में मिला लें।
  • स्टेप 2 : अपने दोनों हाथों को दीवार पर रखें और अपने कंधे की ऊंचाई के बराबर रखें।
  • स्टेप 3 : अपने दाहिने एड़ी के साथ एक कदम आगे बढ़ाएं और अपने शरीर के वजन को दाहिने एड़ी पर शिफ्ट करें और अपने घुटने को धीरे-धीरे मोड़ें।
  • स्टेप 4 : अपने ऊपरी शरीर को दीवार की ओर इस तरह झुकाएं कि आप दूसरे एड़ी की मांसपेशियों के साथ पूर्ण खिंचाव का अनुभव करें।
  • स्टेप 5 : 2 मिनट बाद अपने नॉर्मल पोजीशन में लौट आए और इस अभ्यास को अपने बाएं एड़ी से दोहराएं। इस एक्सरसाइज को हफ्ते में तीन बार 7-10 मिनट तक करें।

    यह व्यायाम आपको एड़ी के दर्द के लक्षणों में सुधार करने में मदद करेगा और आपके काल्फ की मांसपेशियों को आराम देने में भी मदद करेगा।


 Wall Stretch exercise image for heel pain in hindi

तौलिया से खिंचाव

  • स्टेप 1 : यह व्यायाम काल्फ की मांसपेशियों के खिंचाव के जैसा ही है, लेकिन यह व्यायाम तौलिये के साथ किया जाता है।
  • स्टेप 2 : एक तौलिये को स्ट्रैप की तरह मोड़ें। आराम से बैठ जाएं और तौलिये को अपने पैरों के नीचे रखें।
  • स्टेप 3 : तौलिये के दोनों सिरों को अपने हाथों से पकड़ लें। तौलिये को धीरे से अपनी ओर खींचे।
  • स्टेप 4 : 30 सेकेंड तक इस व्यायाम को करें और फिर स्ट्रेचिंग टॉवल को दूसरे पैरों पर ले जाएं।

    यह व्यायाम एड़ी के दर्द और मांसपेशियों में तनाव को कम करने के लिए प्रभावी है।

Towel Stretch exercise for heel pain in hindi

दवा, फिजियोथैरेपी, ब्रेसेस या स्प्लिंट्स और शू कुशन भी एड़ियों में दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं। कुछ मामलों में, आपको सर्जरी से भी गुजरना पड़ सकता है। एड़ी के दर्द की गंभीरता और कारण के आधार पर, आपका डॉक्टर आपको सबसे अच्छे व्यायाम की सलाह देगा जो आपकी एड़ी के दर्द को कम कर सकता है। किसी हड्डी रोग विशेषज्ञ से सलाह लें और जल्द से जल्द अपना इलाज कराएं।

पूछे जाने वाले प्रश्न

जब आप नंगे पैर होते हैं तो आपके पैरों के तलवे को सहारा देने के लिए कुछ भी नहीं होता है। नंगे पैर चलने या खड़े होने से एड़ी के निचले हिस्से में मौजूद लिगामेंट्स और हड्डियों पर तनाव पड़ता है। इससे एड़ी, पैरों के तलवे या दोनों में ही दर्द और परेशानी होती है।

यदि आप अपनी एड़ी में दर्द का अनुभव करते हैं, तो एक आर्थोपेडिक डॉक्टर से परामर्श करना आपका पहला कदम होना चाहिए। इसके अलावा कुछ दवाएं, फिजियोथेरेपी, आइस पैक, एक्सरसाइज, ब्रेसेस और स्प्लिंट्स एड़ी के दर्द से छुटकारा पाने में मददगार होते हैं।

लंबे समय तक अपने पैरों पर खड़े रहने से आपके पैरों में दर्द हो सकता है। जब आप काम पर लंबे समय तक खड़े रहते हैं तो आपका शरीर लगातार आपके पैरों पर दबाव डालता है। इससे पैरों के लिगामेंट्स और हड्डियों में सूजन और दर्द होने लगता है।

हां, आप अपने पैरों को चोट पहुंचाए बिना भी आसानी से हील्स पहन सकती हैं। हील खरीदने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखें:

  • हील्स का सही आकार ले
  • लेदर हील्स चुनें
  • पैरों के लिए इन-सोल कुशन (in sole cushion) का इस्तेमाल करें
  • पूरा ध्यान लगा कर चले ताकि आप गिरे नहीं

यदि आप ज्यादातर समय नंगे पैर रहते हैं, तो आपके पैरो में दबाव और तनाव का अनुभव होगा, जिसके कारण आपके लिगामेंट्स या हड्डियाँ प्रभावित हो सकती है और आपको अपने पैरों में दर्द का अनुभव हो सकता है।